JCB की मदद से बन रहा भोजन, भंडारा इतना विशाल जिसे देख हर कोई हो रहा हैरान

Dandraua Dham: यहाँ की फ़ोटोज़ देखकर शायद ही यकीन होगा कि यह JCB और बुलडोजर कहाँ चलाए जा रहे हैं, लेकिन यह बात सही है कि इनका उपयोग भोजन को बनाने के लिए किया जा रहा है, यहाँ इतनी अधिक भीड़ प्रसाद खा रही है जिसे हर कोई यकीन भी नहीं कर पाएगा।

JCB और बुलडोजर से बनाया जा रहा खाना

अभी तक जेसीबी और बुलडोजर को लेकर लोगों के ध्यान में एक छवि बनी होती है कि इसका उपयोग किसी का घर गिराने या घर बनाने में हो सकता है, परन्तु इन दिनों मध्य प्रदेश के भिंड जिले से जो फ़ोटोज़ सामने आ रही हैं उसे देखकर हर कोई हैरान रह सकता है। यहाँ पर इतना बड़े स्तर का भंडारा हो रहा है कि इसका खाना बनाने में जेसीबी और बुलडोजर का उपयोग किया जा रहा है।

भक्तों के लिए विशाल भंडारे की व्यवस्था की गई

आपको बता दें यह भंडारा मध्य प्रदेश के भिंड जिले में स्थित दंदरौआ धाम में हो रहा है, यहाँ इन दिनों ‘सियपिय’ मिलन समारोह आयोजित किया गया है। इस समारोह में बागेश्वर धाम के महाराज पंडित धीरेंद्र शास्त्री भी उपस्थित रहते हैं और वे कथा सुना रहे हैं, इस आयोजन के दौरान जो श्रद्धालु प्रतिदिन यहाँ जा रहे हैं उनके लिए भंडारे की व्यवस्था भी की गई है।

JCB, बुलडोजर मशीन ,700 हलवाई..10 हजार स्वयंसेवक

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस भंडारे के बारे में प्रतिदिन लाखों श्रद्धालुओं का भोजन बनाया जाता है, इसके लिए यहाँ 700 हलवाई और करीब 10 हजार स्वयंसेवक लगे हुए हैं। हलवाइयों की रात दिन की शिफ्ट लगी हुई है, हालत यह है कि भोजन को बनाने के लिए भंडारे में JCB मशीन से लेकर बुलडोजर और कंक्रीट मिक्सर तक का उपयोग किया जा रहा है।

गंगा ,जमुना नाम के कड़ाहे में बनता है सुबह, दोपहर और शाम का खाना

भंडारे में सुबह बीस क्विंटल पोहा और 8 क्विंटल सूजी का उपयोग करते हुए सुबह का स्वल्पाहार तैयार किया जा रहा है, वहीं दोपहर के भंडारे में सब्जी, पूड़ी और मालपुआ परोसा जा रहा है, यहाँ की बड़ी से रसोई में गंगा और जमुना नाम के 2 बड़े कड़ाहे हैं, जिनमें 20 क्विंटल आलू की सब्जी बनती है। इसे JCB मशीन की मदद से ट्रॉली में डाला जाता है, यहीं से फ़ोटोज़ वायरल हुई हैं।

इतने बड़े भंडारे में इतना अधिक भोजन हो रहा तैयार

इस भंडारे को कई कारणों से याद किया जा रहा है, इतने विशाल भंडारे में इतना ज्यादा खाना तैयार होना एक बात है लेकिन हलवाइयों द्वारा JCB मशीन और सीमेंट कंक्रीट मिक्सर का उपयोग किया जा रहा है, यह चर्चा का विषय बना हुआ है, इसकी कई फ़ोटोज़ भी सामने आई हैं।