शनिवार के दिन भूलकर भी न करें इन चीजों का सेवन, वरना शनि देव हो जाएंगे नाराज

शनिवार का दिन शनि देव को समर्पित है। शास्त्रों में शनिवार के दिन कुछ चीजों का सेवन करने की मनाही है। मान्यता है कि अगर उन चीजों का सेवन किया तो इससे शनि देव नाराज हो जाते हैं और जीवन कष्टों से घिर जाता है। शनिदेव को कर्म फलदाता कहा जाता है, कर्मों के आधार पर लोगों को शुभ -अशुभ फल देते हैं। कुंडली में शनि स्थिति खराब हो तो जीवन में तमाम तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वहीं अगर शनि शुभ स्थान पर हो तो व्यक्ति को सभी तरह की सुख-सुविधा मिलती है। आइये जानते हैं कौन सी हैं वो चीजें जिनका सेवन आपको भूल से भी नहीं करना है।

मसूर दाल

जिनकी कुंडली में शनि की ढैय्या और साढ़ेसाती चल रही है वह शनिवार के दिन मसूर की दाल का सेवन न करें। मसूर दाल लाल रंग का पदार्थ है, जिसे खाने से व्यक्ति का गुस्सा बढ़ता है। इसका संबंध मंगल ग्रह से है। मंगल और शनि दोनों ग्रहों का स्वभाव क्रोधी है।

लाल मिर्च

लाल मिर्च की तासीर गर्म होती है और शनि देव शीतल पदार्थ पसंद करते हैं। शनि के अशुभ प्रभाव से बचने के लिए शनिवार को लाल मिर्च न खाएं।

दूध

दूध का संबंध शुक्र ग्रह से है। शुक्र ग्रह को यौन इच्छाओं का कारक माना गया है। शनि अध्यात्म बढ़ानेवाले हैं, शनिवार को दूध का सेवन करने से शनि देव नाराज होते हैं। साथ ही आज के दिन दही के सेवन से भी बचना चाहिए।

मदिरा

जो आध्यात्म का पालन नहीं करते उन्हें शनि का प्रकोप झेलना पड़ता है। आप भूलकर भी शनिवार के दिन मदिरा पान न करें।